Hindi Shayari : Best Love, Sad, Romantic, Attitude, Dard Shayari for FB & Whatsapp

काश इक दिन ऐसा भी आये हम तेरी बाहों में समा जाएँ,
सिर्फ हम हो और तुम हो और वक्त ही ठहर जाए।
Kaash Ik Din Aisa Bhi Aaye Hum Teri Bahon Me Sama Jayen,
Sirf Hum Ho Aur Tum Ho Aur Waqt Hi Thhar Jaye

Kaash Ik Din Aisa Bhi Aaye shayari

हँसते हुए तुझको जब भी देखता हूँ मैं,
तू ही दुनिया है मेरी यही सोचता हूँ मैं।
Hanste Huye Tujhko Jab Bhi Dekhta Hu Main,
Tu Hi Duniya Hai Meri Yahi Sochta Hun Main.

Hanste Huye Tujhko Jab Bhi Dekhta Hu Main shayari quote

मोहब्बत में न जाने कैसी ये अनहोनी हो गयी
पता ही नहीं चला कब किस से मोहब्बत हो गयी
Mohabbat me na jaane kaise ye anhoni ho gai
Pta hi nhi chla kab kis se mohabbat ho gai

Mohabbat me na jaane hindi shayari image

मेरे  वजूद  में  काश  तू  उतर  जाये ,
मैं  देखु  आइना  और  तू  नज़र  आये ,
तू  हो  सामने  और  ये  वक़्त  ठहर  जाये
ये  ज़िन्दगी  तुझे  देखते  हुए  गुज़र  जाये
Mere wajood mein kaash tu utar jaye,
Main dekhu aaina or tu nazar aaye,
Tu ho samne aur ye waqt thehar jaye
Ye zindagi tujhe dekhte hue guzar jaye
सुनो.. किस तरह छुपाऊँ तुम्हें मैं,
मेरी मुस्कान में भी नजर आने लगी हो तुम.
Suno kis tarah chhupau tumhe main
Meri muskan me bhi najar aane lgi ho tum

Suno kis tarah chhupau tumhe main shayari pic

तुम रख ना सकोगे मेरा तौफ़ा संभालकर,,
वरना मैं अभी दे दूं जिस्म से रूह निकाल कर
Tum rkh na skoge mera tofa sambhal kar
Vrna main abhi de du jism se ruh nikal kar

latest hindi shayri images

ज़िंदगी में बार बार सहारा नही मिलता, बार बार कोई प्यार से प्यारा नही मिलता, है जो पास उसे संभाल के रखना, खो कर वो फिर कभी दुबारा नही मिलता…
Wo jo laakhon me ek hota hai na mere liye wo anmol shkhs ho tum
समझा रहा हूं दिल को सुबह से कि,
शाम तो होने दे…वो बाँहों की हथकड़ी अपनी ही है।
Smja rha hu dil ko subh se ki
Saam to hone de wo bahon ki hatkadi apni hi hai

Smja rha hu dil ko shayari status image

हमे कहाँ मालूम था की इश्क होता है क्या
बस एक तुम मिले और ज़िन्दगी मोहब्बत बन गयी
Hme Kahan Maaloom Tha Ki Ishq Hota Hai Kya
Bas Ek Tum Mile Aur Zindagi Mohabbat Ban Gaei

ऐ बारिश जरा थम के बरस
जब मेरा दोस्त आ जाये तो जम के बरस
पहले ना बरस के वो आ ना सके
फिर इतना बरस के वो जा ना सके
Ae Barish Zra Tham Ke Baras.
Jab Mera Dost Aa Jay To Jam Ke Baras
Phle Na Baras Ki Wo Aa Na Sake
Fir Itna Baras Ke Wo Ja Na Sake