Sad Shayari – Latest Sad Shayri in Hindi

उसकी बाहों में सोने का
अभी तक शौक है मुझको,
मोहब्बत में उजड़ कर भी
मेरी आदत नहीं बदली।
Uski Baahon Mein Sone Ka
Abhi Tak Shauk Hai Mujhko,
Mohabbat Mein Ujad Kar Bhi
Meri Aadat Nahi Badli.
उनके गम में मेरी आँखें नम हो जाती हैं
लेकिन फिर भी होटों पे हंसी लानी पड़ती है
मोहब्बत तो हमने बस एक से की थी
लेकिन ये मोहब्बत जमाने से छुपानी पड़ती है
Uske Gum Me Meri Aankhe Nam Ho Jati Hai
Lekin Fir Bhi Hontho Pe Hunsi Lani Padti Hai
Mohabbat To Humne Bas Ek Se Ki Thi
Lekin Ye Mohabbat Zmane Se Chupani Padti Hai

shayri sad

जब तुम साथ थे तो सबकुछ साथ था मेरे,
बाद तेरे तो हम खुद के भी ना हो पाए।
Jab TUM Sath The to Sab Kuch Sath Tha Mere
Baad TERE to Hum Khud k Bhi Na Ho Paaye

Sad Shayari in Hindi Images

मेरी तरह सितारों से कहा उसने भी कुछ होगा
अकेला मैं नहीं रोता
सहा उसने भी कुछ होगा।
Meri Tarah Sitaro Se kaha usne bhi kuch hoga
Akela main hi rota saha usne bhi kuch hoga…

sad shayari love break up

एक तेरे न रहने से बदल जाता है सब कुछ
कल धूप भी दीवार पे पूरी नहीं उतरी…
Ek Tere na rhne se badal jaatha hai sab kuch
Kl dhoop bhi diwar pe puri nhi utri

latest top sad shayari

जिंदगी  में  प्यार क्या होता  है  वो  उस शक्श  से  पूछो
जिसने दिल टूटने  के बाद भी प्यार किया हो
Jindagi me pyaar kya hota hai wo us shaksh se pucho
Jisne dil tutne ke baad bhi pyaar kia ho…

Sponsored Links

जिस जगह जाकर कोई वापस नहीं आता
जाने क्यों आज वहां जाने को जी चाहता है
Jis Jagah Jaakar Koee Vaapas Nahin Aata
Jaane Kyon Aaj Vahaan Jaane Ko Jee Chaahata Hai

ये ज़िंदगी हमे भी बहुत प्यारी है,
लेकिन फिर क्यों ऐसा लगता है,
के तेरे विन ये हमारी नही है।
Yeah Zindagi hume bhi bhut pyaari hai Lekin
fir kyon aisa lagta hai ke tere bin ye hmari nhi hai

shayari sad

मेरे  दिल  का  दर्द किसने  देखा  है
मुझे  बस  खुदा  ने  तड़पते  देखा  है
हम  तन्हाई  में  बैठे  रोते हैं
लोगो ने  हमे  महफ़िल  में  हँसते  देखा  है
Mere dil ka dard kisne dekha hai
Mujhe bss khuda ne tadpate dekha hai
Hum tanhaai me baithe rote hain
Logo ne hume mahfil me hanste dekha hai

Sad Shayari Images

उसकी  मोहब्बत  का  सिलसिला  भी  क्या  अजीब  था
अपना  भी  न  बनाया  और  किसी  और  का  होने  भी  न  दिया
Uski mohabbat ka silsila bhi kya ajeeb tha
Apna bhi na bnaya or kisi or ka hone bhi na diya

sad shayari hindi

रो दूं सामने गर तुम्हारे, तो समझ जाना तुम,
मेरी बर्दाश्त की वो आखिरी हद थी…!
Roo Du saamne gar tumhare to samaj jaana tum
Meri bardast ki wo aakhiri had thi..

Toota Dil Shayari Images