Sad Shayari – Latest Sad Shayri in Hindi

Use bewafa kahenge to apni hi najar mein gir jayenge hum
Wo pyaar bhi apna tha or wo pasand bhi apni thi
उसे  बेवफा  कहेंगे  तो  अपनी  ही  नजर  में  गिर  जायेंगे  हम
वो  प्यार  भी  अपना  था  और  वो  पसंद  भी  अपनी  थी

Kya likhu apni jindagi ke baare mein dosto
Wo log hi bichad gaye jo jindagi hua krte the
क्या  लिखू  अपनी  जिंदगी  के  बारे  में  दोस्तों
वो  लोग  ही  बिछड़  गए  जो  जिंदगी  हुआ  करते  थे
Tere bina tanha hum rhne lge hain
Dard ke tufaano ko shne lge hain
Badal gai hai iss kadar meri jindagi
Ashak bankar palko se bhne lge hain
तेरे  बिना  तनहा  हम  रहने  लगे  हैं
दर्द  के  तुफानो  को  सहने  लगे  हैं
बदल  गई  है  इस  कदर  मेरी  जिंदगी
अश्क  बनकर  पलकों  से  बहने  लगे  हैं

Bhut taqleef hoti hai uss waqt
Jab tum sab se baat krte ho mujhe chod kar
बहुत  तकलीफ  होती  है  उस वक़्त
जब  तुम  सब  से  बात  करते  हो  मुझे  छोड़  कर
Bhut bhut bhut royegi jis din main yaad aaunga
Aur bolegi ek pagal tha jo pagal tha sirf mere liye
बहुत  बहुत  बहुत  रोयेगी  जिस  दिन  मैं  याद  आऊंगा
और  बोलेगी  एक  पागल  था  जो  पागल  था  सिर्फ  मेरे  लिए
Maut se phle bhi ek maut hoti hai
Dekho tum apni mohabbat se juda ho kar
मौत  से  पहले  भी  एक  मौत  होती  है
देखो  तुम  अपनी  मोहब्बत  से  जुदा  हो  कर
तू ये मत सोचना तुझसे जुदा हो के हम सुकून से सोते हैं,
तुझे क्या पता तेरी तस्वीर को रखके हम कितना रोते हैं।
Tu ye mat sochna tujse juda ho ke hum sukun se sote hain
Tujhe kya pta teri tasveer ko rakh ke hum kitna rote hain
Kuchh Iss Tarah Barbaad Huye Unki Mohbbat Mein,
Loota Bhi Kuchh Nahi Aur Bacha Bhi Kuchh Nahi.
कुछ इस तरह बर्बाद हुए उनकी मोहब्बत में,
लुटा भी कुछ नहीं और बचा भी कुछ नहीं।
माना  की  उससे  बिछड़कर  हम  उम्र  भर  रोते  रहे
पर  मेरे  मर  जाने  के  बाद  उम्र  भर  रोएगा  वो
Mana Ki Usse Bichadkar Hum Umr Bhar Rote Rhe
Par Mere Mar Jane Ke Baad Umr Bhar Roaega Wo