Sad Shayari – Latest शायरी in Hindi Status Image for FB, Whatsapp, Instagram

हजारो टुकड़े किये उसने मेरे दिल के फिर खुद ही रो पड़ी हर टुकड़े पर अपना नाम देखकर
Hajaro tukde kiye usne mere dil ke fir khud hi ro pdi har tukde par apna naam dekhkar

fir khud hi ro pdi har tukde par apna naam dekhkar

कितनी अजीब हो गई है जिंदगी खुश दिखना ज्यादा जरूरी है खुश होने से
Kitni ajeeb ho gai hai jindagi khush dikhna jyaada jruri hai khush hone se

khush dikhna jyaada jruri hai khush hone se

बहुत देर कर दी तुमने मेरी धड़कन महसूस करने में वो दिल नीलाम हो गया जिस पर कभी हुकूमत तुम्हारी थी
Bhut der kar di tumne meri dhadkane mehsoos krne me wo dil nilaam ho gya jiss par kbhi hukumat tumhaari thi

wo dil nilaam ho gya jiss par kbhi hukumat tumhaari thi

चलो अब जाने भी दो क्या करोगे दास्ताँ सुनकर ख़ामोशी तुम समझोगे नहीं और बयाँ हमसे होगी नहीं
Chlo ab jaane bhi do kya kroge dastan sunkar khamoshi tum smjoge nhi or byaan humse hogi nhi

khamoshi tum smjoge nhi or byaan humse hogi nhi

दर्द तो तब होता है जब हमे किसी से प्यार हो और उसके दिल में कोई और हो
Dard to tab hota hai jab hume kisi se pyaar ho or uske dil me koi or ho

or uske dil me koi or ho

अब न करूंगा अपने दर्द को बयाँ जब दर्द सहना मुझको ही है तो तमाशा क्यों करना
Ab na krunga apne dard ko byaan jab dard sehna mujhko hi hai to tmaasha kyon krna

jab dard sehna mujhko hi hai to tmaasha kyon krna

बदलते हुए लोगो के बारे में आखिर क्या कहु मैं मैंने तो अपना ही प्यार किसी और का होते देखा है
Badlte huye logo ke baare mein aakhir kya khu main maine to apna hi pyaar kisi or ka hote dekha hai

main maine to apna hi pyaar kisi or ka hote dekha hai

मैं कैसे मान लू की वो किसी और को चाहती है
Main kaise maan lu ki wo kisi or ko chahti hai

hindi sad shayari

इरादा क़त्ल का था तो मेरा सर कलम कर देते क्यों इश्क़ में डाल कर तूने मेरी हर सांस पर मौत लिख दी 
Iraada katl ka tha to mera sir kalam kar dete kyon ishq mein daal kar tune meri har saans par maut likh di

kyon ishq mein daal kar tune meri har saans par maut likh di

हो इजाजत तो एक बात पुछु जो हमसे इश्क़ सीखा था वो अब किस से करते हो
Ho ijajat to ek baat puchu jo humse ishq sikha tha wo ab kiss se karte ho

jo humse ishq sikha tha wo ab kiss se karte ho